हम जीते है खुशिया पाने के लिए, ए दोस्त तू हाथ बढाके तो देख, क्या होती है ख़ुशी, हम बैठे है इसका ऐसास दिलाने के लिए..

Spread the love

हम जीते है खुशिया पाने के लिए,
ए दोस्त तू हाथ बढाके तो देख,
क्या होती है ख़ुशी,
हम बैठे है इसका ऐसास दिलाने के लिए..