आपकी दोस्ती की एक नज़र चाहिए, दिल है बे-घर उसे एक घर चाहिए, बस यूँही साथ चलते रहो, ऐ दोस्त, यह दोस्ती हमें उम्र भर चाहिए..


Dosti Shayari / Monday, December 26th, 2016

आपकी दोस्ती की एक नज़र चाहिए,
दिल है बे-घर उसे एक घर चाहिए,
बस यूँही साथ चलते रहो, ऐ दोस्त,
यह दोस्ती हमें उम्र भर चाहिए..

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − thirteen =