तू चाँद है शरमाया ना कर, फूल से चेहरे को मुरझाया ना कर, जब तक हम ज़िंदा है तेरे दोस्त बन कर तब तक किसी ब बात से घबराया ना कर


Dosti Shayari / Wednesday, March 8th, 2017

तू चाँद है शरमाया ना कर,
फूल से चेहरे को मुरझाया ना कर,
जब तक हम ज़िंदा है तेरे दोस्त बन कर
तब तक किसी ब बात से घबराया ना कर

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen + nine =