खुशी मिली तो मुस्कुरा न सके, गम मिला तो आंसू बहा न सके, जिन्दगी का यही राज है, जिसे चाहा उसे पा न सके, औऱ इतना चाहा कि उसे भुला न सके।


Yaadein Shayari / Saturday, March 4th, 2017

खुशी मिली तो मुस्कुरा न सके,
गम मिला तो आंसू बहा न सके,
जिन्दगी का यही राज है,
जिसे चाहा उसे पा न सके,
औऱ इतना चाहा कि उसे भुला न सके।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 − one =