1. दिया बनकर जिसने घर रोशन किया उसी ने घर जल दिया , धड़कन समझकर जिसे दिल में बसाया उसी ने दिल तोड़ दिया..


Dard Shayari / Tuesday, December 27th, 2016

1. दिया बनकर जिसने घर रोशन किया उसी ने घर जल दिया ,
धड़कन समझकर जिसे दिल में बसाया उसी ने दिल तोड़ दिया..

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen − 2 =